Recent Comments

    test
    test
    OFFLINE LIVE

    Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

    February 5, 2023

    दिल्ली के जंतर मंतर पर 2 दिनों से प्रदर्शन कर रहे पहलवानो को कई समर्थन मिल रहा है।

    1 min read
    😊 कृपया इस न्यूज को शेयर करें😊

     

    दिल्ली के जंतर मंतर पर 2 दिनों से प्रदर्शन कर रहे पहलवानो को कई समर्थन मिल रहा है। आपको बता दे भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण के खिलाफ कई भारतीय पहलवान प्रदर्शन कर रहे है।  जंतर मंतर पर प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ियों ने बृजभूषण शरण सिंह पर कई गंभीर आरोप लगाए है। तमाम पहलवान जैसे बजरंग पुनिया, विनेश फोगट , साक्षी मलिक और आशु मलिक भी शामिल है। पहलवानो का आरोप लगया की बृजभूषण अपने मनमाने तरीके से संघ को चला रहे है और संघ में उन जैसे लोगो की भरमार है, जो लड़कियों का शोषण करते है। कई पुरुष कोच भी लड़कियों और महिला कोच का शोषण करते हैं।

    पहलवानों ने यह भी दावा किया कि उनके पास पांच से छह ऐसी खिलाड़ी हैं, जिनके साथ ऐसा हुआ है। यह साबित करने के लिए उनके पास सबूत भी हैं, लेकिन वह सबूतों को सार्वजानिक नहीं करना चाहते हैं। पहलवानों का कहना है कि जह तक बृजभूषण सिंह का इस्तीफा नहीं होता है, तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा। वह इस मामले को कोर्ट तक लेकर जाएंगे और बृजभूषण सिंह को जेल भिजवाकर रहेंगे।

    आगे बजरंग पुनिया ने बताया फेडरेशन का काम खिलाड़ियों का साथ देना, उनकी खेल की जरूरतों का ध्यान रखना होता है। कोई समस्या हो तो उसका निदान करना होता है। लेकिन अगर फेडरेशन ही समस्या खड़ी करे तो क्या किया जाए? अब लड़ना पड़ेगा, हम पीछे नहीं हटेंगे। पहलवानों के जंतर मंतर पर धरना देने और विनेश फोगाट द्वारा कुश्ती संघ के अध्यक्ष के ऊपर लगाए गए आरोपों को लेकर दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम के कोच प्रवीण दहिया ने खुलकर बात की है। प्रवीण ने कहा कि विनेश फोगाट द्वारा लगाया गया यौन शोषण का आरोप बहुत गंभीर है क्योंकि ऐसी बातें कोई भी बिना कारण नहीं बोलता। पहलवान यही चाहते हैं कि निष्पक्ष जांच के बाद सच बाहर आए।

    दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस और केंद्रीय खेल मंत्री को भेजा नोटिस

    पहलवानों के जंतर मंतर पर धरना देने के मामले में दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने दिल्ली पुलिस व केंद्रीय खेल मंत्री को नोटिस दिया है। इसके अलावा उन्होंने धरनास्थल पर जाकर पहलवानों से मुलाकात की। मालीवाल ने कहा कि पहलवानों की मांगें जल्द पूरी की जाएं। उन्होंने कहा कि धरने पर बैठे पहलवानों ने विभिन्न अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक जीतकर देश का नाम रोशन किया है। इसके बावजूद अपनी मांगों के लिए धरने पर बैठना दुर्भाग्यशाली है। हालांकि पहलवानों के आरोप लगाने के बाद खेल मंत्रालय भी इस मामले में हस्तछेप करते हुए भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह से भी 72 घंटे के भीतर जवाब माँगा गया है।

     

     


    Whatsapp बटन दबा कर इस न्यूज को शेयर जरूर करें 

    Advertising Space


    स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे.

    Donate Now

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    WP Radio
    WP Radio
    OFFLINE LIVE