भारतीय वायुसेना में शामिल हुए अन्य 5 राफेल विमान

Spread the love

अम्बाला। अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन में आज भारतीय वायु सेना के बेड़े में पांच राफेल फाइटर जेट्स का एक और बैच जुड़ गया है। गौरतलब है कि चौथी जेनरेशन का सबसे फुर्तीला जेट राफेल का पहला बैच 29 जुलाई को भारत पहुंचा था। इस मौके पर वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने कहा कि सुरक्षा की मौजूदा स्थिति को देखते हुए राफेल को शामिल करने का इससे अच्छा समय कोई और नहीं हो सकता था। साथ ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राफेल के भारतीय वायुसेना में शामिल होने की वजह से वायुसेना और भी ज्यादा शक्तिशाली हो गया है।

इससे पहले फ्रांस की डिफेंस मिनिस्टर फ्लोरेंस पार्ले की मौजूदगी में सर्वधर्म यानी हिंदू, मुस्लिम, सिख और इसाई धर्म के अनुसार पूजा की गई। उसके बाद एयर-शो हुआ, जिसमें फाइटर प्लेन ने आसमान में ताकत दिखाई। फिर, लैंडिंग के बाद वॉटर कैनन सैल्यूट दिया गया। राफेल फाइटर जेट की अम्बाला स्थित 17 गोल्डन एरो स्क्वॉड्रन में औपचारिक एंट्री इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई है। 17 साल बाद देश का कोई रक्षा मंत्री अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन पर किसी बड़े समारोह में शामिल हुआ है।

आपको बता दे कि भारत ने फ्रांस के साथ 2016 में 58 हजार करोड़ रुपए में 36 राफेल जेट की डील की थी। इनमें से 30 फाइटर जेट्स होंगे और 6 ट्रेनिंग एयरक्राफ्ट होंगे। ट्रेनर जेट्स टू सीटर होंगे और इनमें भी फाइटर जेट्स जैसे सभी फीचर होंगे। भारत को जुलाई के आखिर में 5 राफेल फाइटर जेट्स का पहला बैच मिला। 27 जुलाई को 7 भारतीय पायलट्स ने राफेल लेकर फ्रांस से उड़ान भरी थी और 7,000 किमी का सफर तय कर 29 जुलाई को भारत पहुंचे थे।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *