राजधानी में सांस लेना हुआ मुश्किल, दिल्ली सरकार ने लिया बड़ा निर्णय

Spread the love

नई दिल्ली। राजधानी में प्रदूषण बहुत तीव्रता से बढ़ रहा है, जिसके कारण लोगों को सांस लेने व अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याओ का सामना करना पड़ रहा है। आम जनता की दिक्कतों को देखते हुए सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है। प्रदूषण को रोकने के लिए ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के तहत सरकार ने डीजल जनरेटर पर बैन लगा दिया है तथा अन्य सख्त कदम उठाने का निर्णय ले रही है।

आपको बता दे कि दिल्ली में सुबह 6 बजे एयर क्वालिटी इंडेक्स 316 के स्तर पर था, जो धीरे धीरे बढ़ते जा रहा है। नोएडा में एयर क्वालिटी इंडेक्स 348 और गुरुग्राम में ये 305 तक पहुंच चुका है। फरवरी के बाद से ये अबतक का सबसे खराब स्तर है और पूरा एनसीआर रेड जोन में है। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर बनी प्रदूषण नियंत्रण अथॉरिटी से अपील की है कि वो दिल्ली के आसपास 300 किमी में आने वाले 11 थर्मल पॉवर स्टेशन बंद कर दे।

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार प्रदूषण को रोकने के लिए अन्य सख्त कदम उठाने का फैसला ले रही है लेकिन पड़ोसी राज्यों में प्रदूषण को रोकने पर कोई कदम नही उठाया जा रहा। जिसके कारण दिल्ली में प्रदूषण तेजी से बढ़ रहा है। मंत्री गोपाल राय का कहना है कि ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के तहत दिल्ली सरकार के डीजल जनरेटर पर रोक लगा दी, वही पड़ोसी राज्य हरियाण वायु प्रदूषण को लेकर गंभीर नही है क्योंकि उन्होने राज्य में बढ़ते प्रदूषण को लेकर कोई भी कदम नही उठाया है। यही कारण है कि दिल्ली से सटे फरीदाबाद और गुरुग्राम में डीजल जनरेटर बिना किसी रोक के चलते है जिसके कारण दिल्ली की एयर क्वालिटी इंडेक्स में बिल्कुल भी सुधार देखने को नहीं मिल पाता है।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *