बड़े पैमाने पर बैंकों के विलय की घोषणा

PRESS CONFRENCE
Spread the love

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संवाददाता सम्मेलन में बैंकों के विलय की घोषणा की।
पंजाब नेशनल बैंक में होगा यूनाइटेड बैंक आफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक आफ कामर्स का विलय ।
सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक में जबकि इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय किया जायेगा।

सार्वजनिक क्षेत्र के दस बैंकों का विलय कर चार बड़े बैंक बनाने का फैसला किया गया।
विलय के बाद सरकारी बैंकों की संख्या 18 से घटकर रह जाएगी केवल 12 ।
2017 में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की संख्या 27 थी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि अब तक भारतीय स्टेट बैंक और उसके सहायक बैंकों के विलय के बाद बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक और देना बैंक के विलय के परिणाम उत्साहजनक हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा 16.13 लाख करोड़ रुपये के कारोबार के साथ देश का तीसरा बड़ा बैंक बन गया है।

उन्होंने कहा कि अब ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का पंजाब नेशनल बैंक में विलय किया जायेगा जो विलय के बाद 17.94 लाख करोड़ रुपये के कारोबार के साथ देश का दूसरा बड़ा बैंक होगा। इसकी कुल 11,437 शाखायें हो जायेंगी और कर्मचारियों की संख्या भी एक लाख के पार हो जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *