अपने ही एक दोस्त को कार से कुचला, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Spread the love

नई दिल्ली। दिल्ली के तिमारपुर इलाके में एक आपराधिक मामला चौंका देने वाला सामने आया है। जहां दो दोस्तों ने अपने ही एक दोस्त को कार से कुचलकर मार डाला हैं। दिल्ली पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद इस सनसनीखेज मामले में मृतक के दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
नॉर्थ जिले की डीसीपी नुपुर प्रसाद के अनुसार 30 अक्टूबर की रात तकरीबन सवा 9 बजे कॉल आई थी। जिसमें बताया गया था कि किसी ने एक शख्स को चाकू मार दिया है। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और उस शख्स को अस्पताल ले गई लेकिन इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई। मामले की तहकीकात के लिए तिमारपुर थाने के एसएचओ ओपी सिन्हा, एसआई अंकित चौधरी और हेड कांस्टेबल धर्मेन्द्र की एक टीम बनाई गई।

बता दे कि पुलिस जांच के दौरान उस शख्स की पहचान कपड़ा कारोबारी पवन बाटला (26 वर्ष) के तौर पर हुई हैं। पुलिस को मृतक के घर वालों ने बताया कि उसके दोस्त का फोन आया था और उसके बाद वह घर से अपनी कार लेकर चला गया था। पुलिस ने घर के पास लगे सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की तो उसमें दोनों दोस्त नजर आ रहे थे और पुलिस ने मृतक की कॉल डिटेल चेक की तो उसमें लास्ट कॉल भी उसके दोस्त की ही मिली थी।

पुलिस ने मृतक के दोस्त से जब पूछताछ की तो वह लगातार पुलिस को बरगलाता रहा। लेकिन बाद में उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। जिसके बाद पुलिस ने दोनों दोस्त नितिन छाबड़ा और मनु वाधवा को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपियों ने पुलिस को बताया कि पवन बाटला को जब घर से उसकी कार में लेकर गए तो तिमारपुर इलाके में रोड पर सिगरेट पीने के दौरान उस पर पीछे से रॉड से हमला किया था।

उसी दौरान पवन ने भी नितिन के सिर पर चोट मारी। इसके बाद पवन बाटला गंभीर रूप से घायल हो गया। इसके बाद दोनों ने मिलकर पवन बाटला को उसकी ही कार से कई बार कुचल दिया और फिर मौके से फरार हो गए। इस घटना को अंजाम देने के बाद दोनों ने पवन की कार को पीतमपुरा इलाके में जला दिया।

आरोपी नितिन छाबड़ा ने पुलिस को बताया कि पवन बाटला ने उससे 2 लाख 35 हजार रुपए उधार लिए थे। जिसके बाद पवन ब्याज के तौर पर हर महीने पांच हजार रुपए भी दे रहा था। लेकिन, बीच में उसने पैसे देने बंद कर दिए।

तभी नितिन छाबड़ा ने पवन को पैसे के लिए कॉल किया था। और फिर उसी की कार से बाहर गए और तिमारपुर इलाके में मर्डर कर दिया। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि इन लोगों प्लान पवन को मारने के बाद फिरौती मांगने का भी था। लेकिन नंबर प्लेट से पुलिस ने उस कार मालिक की पहचान कर ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *