सितंबर में फिर पटरी पर लौटेगी दिल्ली मेट्रो

Spread the love

नई दिल्ली। राजधानी का दिल दिल्ली मेट्रो 150 दिन के बाद सितंबर से एक बार फिर चलने को तैयार है। गौरतलब है कि दिल्ली मेट्रो पहले देशव्यापी तालाबंदी से ही आम जनता के सफर के लिए बंद थी ताकि संक्रामक कोरोना वायरस के प्रसार को सीमित किया जा सके, जिस वजह लोगों को दैनिक आधार पर आवागमन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। जानकारी के मुताबिक अनलॉक चार के पहले पखवाड़े में मेट्रो को शुरू करने की मंजूरी दी जा सकती है।

आपको बता दे कि दिल्ली मेट्रो की सेवाएं पहले दिन से पूरी तरह से नहीं खुलेंग और शुरूआत में सिर्फ सरकारी इमरजेंसी सेवा व कुछ अन्य श्रेणी के यात्रियों को ही यात्रा करने की छूट मिलेगी। जिससे मेट्रो स्टेशनों पर भीड़ एकत्रित ना हो। साथ ही मेट्रो ने अपने परिचालन से जुड़े मानक संचालन प्रक्रिया भी पहले ही तैयार कर लिया है।

जिसमें यात्रियों को यात्रा करने से पहले कई शर्तों का पालन करना होगा। जिसमें यात्री के अंदर कोरोना के किसी भी तरह के लक्षण (सर्दी, जुखाम, बुखार) ना हो, अगर हुआ तो उसे वापस लौटा दिया जाएगा। मोबाइल में आरोग्य सेतू ऐप अनिवार्य होगा। स्मार्ट कार्ड रखने वाले यात्री ही सफर कर पाएंगे, यानि टोकन नहीं मिलेगा। टोकन लेने वाले सभी काउंटर व टिकट वेंडिग मशीन बंद रहेंगे।

दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार को मेट्रो चलाने को लेकर जो प्रस्ताव भेजा है उसके मुताबिक मेट्रो परिचालन के शुरूआती एक सप्ताह में सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को ही यात्रा करने का मौका दिया जाए। उसके बाद एक सप्ताह बाद उसका समीक्षा की जाएं। अगर सब ठीक चल रहा तो उसे बाकी लोगों के लिए ही शुरू किया जाएं। कोरोना के चलते मेट्रो परिचालन में प्रवेश व निकास से लेकर यात्रा करने तक के सभी नियमों में बदलाव किया गया है।

मेट्रो स्टेशन पर भीड़ ना हो, इसके लिए स्टेशन के सीमित प्रवेश व निकास गेट खोले जाएंगे। जिससे सभी की ठीक से जांच की जा सके। इसके अलावा मेट्रो की सीट में दो यात्रियों के बीच एक सीट खाली रहेगी। एक कोच में अधिकतम 50 लोग सफर कर पाएंगे। सभी को मास्क लगाना अनिवार्य होगा।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *