हड़ताल से दिल्ली में निजी वाहनों के चक्के जाम

All India Transporters Association

निजी वाहनों के चक्के जाम

Spread the love

नई दिल्ली। नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद से यातायात नियम का उल्लंघन करते ही वाहनों का भारी भरकम चालान काटा जा रहा है। जिसके चलते वाहन चालकों का विरोध उग्र होने लगा है और भारी भरकम चालान के ​चलते ऑल इंडिया ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन ने आज (19 सितंबर) दिल्ली-एनसीआर में हड़ताल का आह्वान किया है। इस हड़ताल के मद्देनजर दिल्ली और उसके आसपास के सभी इलाकों में निजी वाहनों के चक्के थम गए हैं।

बता दे कि मोटर व्हीकल (संशोधन) अधिनियम 2019 को संसद ने पिछले सत्र में पारित किया और यह एक सितंबर से प्रभावी हो गया। जुर्माने की राशि इतनी ज्यादा है कि इसी सप्ताह एक ट्रक चालक और उसके मालिक को ओवरलोडिंग और कुछ अन्य नियमों के उल्लंघन पर दिल्ली में दो लाख रुपये का जुर्माना भरना पड़ा था।

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने जुर्माने की राशि में बढ़ोतरी का मजबूती से बचाव करते हुए कहा कि देश में प्रतिवर्ष सड़क दुर्घटनाओं में कई लोगों की मौत हो जाती है, इसलिए इस अधिनियम का उद्देश्य वाहन चालकों को यातायात नियमों का उल्लंघन करने से रोकना है।

गुजरात, पश्चिम बंगाल और उत्तराखंड जैसे राज्यों ने नए कानून को लागू नहीं करने का फैसला किया, वहीं महाराष्ट्र ने केंद्र से जुर्माने की राशि पर दोबारा विचार करने का आग्रह किया और कई राज्यों ने यह कहते हुए इसे लागू ना करने का निर्णय लिया है कि इससे जनता पर अनुचित भार पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *