ऐप में गलत जानकारी देने पर केजरीवाल ने निजी अस्पतालों को दी चेतावनी

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने निजी अस्पतालों को दी चेतावनी

Spread the love

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने हाल ही के कुछ दिनों पहले एक एप लॉन्च किया था जिसमें कोरोना वायरस से संक्रमितों के लिए बैड की जानकारी उपलब्ध की गई है कि कौन से अस्पताल में कितने बेड खाली है और कितने नही। लेकिन कुछ अस्पताल बेड को लेकर गलत जानकारी दे रहे है। जिसको लेकर शनिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक प्रैस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि ऐप पर दिल्ली के सभी अस्पतालों की जानकारी है लेकिन कुछ अस्पताल बेड की गलत जानकारी दे रहे हैं। केजरीवाल ने ऐसे अस्पतालों को चेतावनी देते हुए कार्रवाई की चेतावनी दी है।

केजरीवाल ने कहा कि “देश में सबसे ज्यादा कोरोना टेस्ट दिल्ली में हो रहे हैं। कुछ चंद निजी अस्पताल इस महामारी के दौरान बेड की ब्लैक मार्केटिंग कर रहे हैं। हालांकि सभी निजी अस्पताल गलत नहीं कर रहे, लेकिन कुछ चंद अस्पताल गलत हरकत कर रहे हैं। इस ऐप में सभी अस्पतालों की सूची डाली गई है ताकि आम लोगों को खाली बेड की जानकारी प्राप्त हो सके।”

केजरीवाल ने आगे कहा कि “निजी अस्पताल धमकी दे रहे हैं तो उन्हें मैं कहना चाहता हूं कि आपको कोरोना मरीजों का इलाज करना होगा। ऐसे निजी अस्पतालों की सूची बनाई जा रही है। हमारी टीम इस पर काम कर रही है। 20 प्रतिशत बेड खाली तो हर हाल में कोरोना मरीजों को खाली रखने होंगे।”

“दिल्ली में कोविड-19 की जांच नहीं रुकी है, 36 सरकारी और निजी लैब जांच कर रही हैं। दिल्ली सरकार कोविड मरीजों के लिए उपलब्ध बैडों पर नजर रखने के लिए हरेक निजी अस्पताल में मेडिकल पेशेवर तैनात करेगी।”

“आज हम सभी अस्पतालों के लिए आर्डर पास कर रहे हैं। अब किसी भी संदिग्ध मरीज को अस्पताल भर्ती करने से मना नहीं कर सकता। अस्पताल को मरीज को भर्ती करना होगा, उसकी टेस्टिंग के साथ-साथ उसका इलाज भी करना होगा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *