दिल्ली में ‘गदर’ के बाद भी नहीं मानें किसान, अब संसद की ओर कूच पर अड़े

Spread the love

आंदोलन में शामिल अधिकांश किसान पंजाब, हरियाणा और पश्चिम उत्तर प्रदेश के हैं. ये सभी तीन कृषि कानूनों को वापस लिए जाने एवम न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानूनी गारंटी की मांग कर रहे हैं

नई दिल्ली. राजधानी गणतंत्र दिवस के जश्न के बीच मंगलवार को हिंसक वारदातों ने देश को दुनियाभर में शर्मसार किया है |
नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हिंसा भड़की., इन घटनाओं के कारण करीब 2 महीनों से जारी आंदोलन कमजोर हुआ है बावजूद इसके किसानों ने साफ कर दिया है कि केंद्र के कृषि कानूनों को वापस लेने को लेकर उनका विरोध जारी रहेगा. यही नहीं उन्होंने कहा कि बजट के दिन संसद तक होने वाले मार्च का कार्यक्रम भी हो कर रहेगा.

KIsan Andolan

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *