किसानों ने धरना समाप्त करने का किया ऐलान

Spread the love

(दिल्ली-अप-टु-डेट)  चंडीगढ़। शनिवार को किसानों ने करनाल में चल रहा धरना समाप्त करने का ऐलान कर दिया है। करीब छह घंटे तक चली बैठक के बाद किसानों तथा प्रशासन के बीच समझौता हो गया है जिसके बाद हरियाणा सरकार करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज की जांच करवाने के लिए तैयार हो गई है। सरकार ने विवादित आईएएस आयुष सिन्हा को एक माह की छुट्टी पर भेज दिया है।

आपको बता दें कि शुक्रवार की रात वरिष्ठ आईएएस देवेंद्र सिंहने मोर्चा संभाला। करनाल के जिला उपायुक्त, आईजी ममता सिंह व अन्य अधिकारियों की भारतीय किसान यूनियन के प्रधान गुरनाम सिंह चढूनी तथा अन्य नेताओं के साथ कई घंटे बैठक चली। बैठक के बाद देवेंद्र सिंह ने कहा कि 28 अगस्त को बसताड़ा टोल पर हुए घटनाक्रम की जांच हाईकोर्ट के सेवानिवृत्त जज से करवाई जाएगी। यह जांच एक माह के भीतर पूरी होगी। जब जांच चलेगी तब तक तत्कालीन एसडीएम आयुष सिन्हा अवकाश पर रहेंगे।

गौरतलब है कि हरियाणा के करनाल में बीती 28 अगस्त को भाजपा की बैठक का विरोध कर रहे किसानों पर लाठीचार्ज किया गया था। इस लाठीचार्ज से पहले करनाल के एसडीएम आईएएस आयुष सिन्हा का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें वह डयूटी मजिस्ट्रेट होने के नाते किसानों के सिर फोड़ने की बात कहते हुए सुनाई दे रहे थे। एसडीएम के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने 7 सितंबर को करनाल में महापंचायत की थी। इस महापंचायत के बाद किसानों ने करनाल के लघु सचिवालय में अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया था।

ये भी पढ़े-: दुनिया के सबसे घातक आतंकी हमले के दो दशक बाद का विश्व


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *