राजधानी में नहीं मनेगा गणेश चतुर्थी महोत्सव, दिल्ली सरकार ने लगाया प्रतिबंध

Spread the love

(दिल्ली-अप-टु-डेट) नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में कोरोना की दूसरी लहर के आंकड़ों में कमी देखने को मिल रही हैं, इसके बावजूद भी दिल्ली सरकार की ओर से कोई ​ढ़िलाई नही बरती जा रही हैं। बता दें कि 10 सितंबर 2021 को गणेश चतुर्दशीपर्व की शुरुआत हो रही है। इस दिन लोग बड़े ही धूम-धाम से घर में गणपति की स्थापना करते हैं, 10 दिन तक बप्पा को घर पर विराजमान करते हैं और फिर अन्नत चतुर्दशी के दिन गजानन का विसर्जन किया जाता है। गणेश चतुर्दशी से पहले ही लोग पर्व की तैयारियों में लग जाते हैं। घर पर बप्पा की स्थापना करने के लिए अगर आप भी गणपति खरीदने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो बता दें कि गणपति का सिद्दि विनायक रूप ज्यादा मंगलकारी माना जाता है इसलिए सिद्धि विनायक की स्थापना करना शुभ माना जाता है। कहते हैं कि मात्र सिद्धि विनायक की उपासना से ही हर बाधा और संकट को दूर किया जा सकता है। लेकिन दिल्ली सरकार राजधानी लोगों की सुरक्षा व जान को लेकर किसी भी तरह का जोखिम नही लेना चाहती। जिस दौरान दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से जारी किए गए नए आदेश के मुताबिक राजधानी दिल्ली में अब गणेश चतुर्थी महोत्सव को सार्वजनिक तौर पर मनाने पर प्रतिबंध लगा दिया हैं।

आपको बता दें कि कोरोना की स्थिति को मध्यनजर रखते हुए डीडीएमए सीईओ और दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी विजय देव की ओर से जारी किए गए आदेश के मुताबिक गणेश भक्त सार्वजनिक तौर पर कार्यक्रम न करके अपने घरों में ही गणेश चतुर्थी के महोत्सव का आयोजन करें।

गौरतलब हैं कि डीडीएमए की ओर से जारी किए गए आदेश में 30 अगस्त को भी साफ और स्पष्ट निर्देश दिए गए थे कि सभी सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक और फेस्टिवल से जुड़ी हुई आयोजन में लोगों की भीड़ आदि करने पर पूरी तरह से प्रतिबंध है।

ये भी पढ़े-: ये न्यूज पढ़ने के बाद Whatsapp यूजर्स को लगा बड़ा झटका


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *