वैक्सीनेशन से हो रहे साइड इफेक्ट्स पर स्वास्थ्य मंत्री ने दी अपनी सफाई

Spread the love

अब तक साइड इफेक्टस के आए लगभग 600 मामले

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए वैक्सीनेशन 16 जनवरी से शुरु हो गई थी और तब से लेकर अब तक लगभग 600 साइड इफेक्ट के केस सामने आ गए हैं, जिस को लेकर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने अपनी सफाई देते हुए कहा है कि वैक्सीनेशन के बाद कुछ साइड इफेक्ट के मामले सामने आ रहे हैं, वो सामान्य हैं और किसी भी वैक्सीनेशन में ऐसा होता है। आपको बता दे कि कई राज्यों में तो कोरोना वायरस टीकाकरण लेने के बाद मौत के भी मामले सामने आए है।

डॉ. हर्षवर्धन ने यह भी कहा कि सच्चाई है कि वैक्सीनेशन पूरी तरह सुरक्षित और प्रभावी है और वैक्सीनेशन कोरोना के ताबूत में अंतिम कील साबित होगा। ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग राजनीतिक फायदा लेने के लिए वैक्सीनेशन को लेकर गलत बातें फैला रहे हैं। इसके कारण कुछ लोग वैक्सीन लगवाने में कतरा रहे हैं। सरकार कतई नहीं चाहती कि वैक्सीनेशन के बाद किसी पर भी गलत प्रभाव पड़ें। सभी को सुरक्षित रखना हमारी जिम्मेदारी है।

इन सभी महिलाओं ने साजिद खान पर लगाए है सेक्सुअल मिसकंडक्ट के आरोप

गौरतलब है कि भारत में कोरोना वायरस के टीकाकरण की मुहिम शुरू होने के बाद से कुल 7.86 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन का पहला डोज दिया जा चुका है। हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, वैक्सीनेशन के 5वें दिन (20 जनवरी) साइड इफेक्ट के कुल 82 मामले सामने आए। दिल्ली में 4, कर्नाटक के 2, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, राजस्थान और पश्चिम बंगाल के 1-1 केस को हॉस्पिटल में भर्ती कराना पड़ा। दिल्ली में एक की मॉनिटरिंग की जा रही है और बाकी 3 को डिस्चार्ज किया जा चुका है। कर्नाटक में भी दो में एक को डिस्चार्ज किया जा चुका है। बंगाल के व्यक्ति की मॉनिटरिंग की जा रही है। बाकी सभी डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *