इटली में सही समय पर इलाज न मिलने से लोगो की भारी संख्या में मृत्यु हुई:डब्ल्यूएसजे

डब्ल्यूएसजे ने कहा कि कोरोना की जांच केवल उन्हीं लोगों की हो सकी जिसमें इसके लक्षण दिखायी दिये।

Spread the love

वाशिंगटन। इटली में कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ से मरने वालों की संख्या रिपोर्ट किये जा रहे आंकड़ों से काफी अधिक है। वॉल स्ट्रीट जर्नल (डब्ल्यूएसजे) ने इटली के कोकागलिओ के उप महापौर यूगेनिओ फोसाटी के हवाले से यह जानकारी देते हुए कहा, “इटली में कोरोना वायरस से वास्तविक मौत की संख्या आधिकारिक रूप से घोषित संख्या से बहुत अधिक है। सही समय पर उचित इलाज नहीं मिलने के कारण बहुत सारे लोगों की मौत हो गयी।”

डब्ल्यूएसजे ने कहा कि कोरोना की जांच केवल उन्हीं लोगों की हो सकी जिसमें इसके लक्षण दिखायी दिये। अखबार ने कहा कि वास्तविकता में इससे कई लाख लोग संक्रमित हुए होंगे। ब्रेससीआ के डॉक्टर एलोनोरा कोलोम्बी ने कहा कि “कोरोना से संक्रमित बहुत सारे मृतकों की पोस्टमॉर्टम नहीं हो पा रही। इस महामारी से मरने वालों में जिनकी जांच नहीं हुई उनमें वृद्ध ज्यादा है। लेकिन इतने सारे लोगों का एक समय पर मौत का शिकार होना आश्चर्यचकित करता है।”

यूरोप में कोरोना वायरस का संक्रमण सबसे अधिक इटली में फैला है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार बुधवार शाम तक इटली में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 110,000 हो गयी है और 13,155 लोगों की मौत हो गयी है। इटली में अब तक 17,000 लोग इससे स्वस्थ हो चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *