अखबारों से नही फैलता कोरोना

Spread the love

अफवाहों की चपेट में आये समाचार पत्र वितरित करने वाले वैंडर

नई दिल्ली। उत्तरी दिल्ली के अंतर्गत आने वाला गुलाबी बाग पिछलें तीन दिनों से अफवाहों की चपेट में आ गया है। अफवाहों की बड़ी वजह रही अखबार डिस्टीबूट करने वाले वैंडर जिनको लेकर अफवाह उड़ी थी कि वे लोग कोरोना संक्रमित व्यक्ति की चपेट में आये है। लेकिन इसकी सच्ची कुछ ओर ही निकली।

बता दे कि गुलाबी बाग में सभी समाचार पत्रों का सेंटर है जहाँ से शास्त्री नगर, इन्द्रलोक, दया बस्ती, सराय बस्ती जैसे कई एरिया के लगभग 15 हजार घरों में समाचार पत्र वितरित होते है। इन अफवाहों के कारण अखबार पढ़ने वालों के अंदर कोरोना वायरस का डर पैदा हो गया तो अखबार डिस्टीबूट करने वाले वैंडरो को अखबार डिस्टीबूट करने तक के लिए मना कर दिया गया। क्योंकि पुलिस ने 17 लोगो की लिस्ट जारी की थी जो ए​​क समाचार पत्र डिस्टीबूट करने वाली गाड़ी के ड्राइवर के सम्पर्क में आये थे। जो डिस्टीबूट के दौरान कोरोना संक्रमित हो गया था। उस लिस्ट में इन वैंडरों का भी नाम शामिल था जिसके कारण इन वैंडरों को फैक अफवाहो के कारण काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

कहीं न कहीं जल्दबाजी में दिल्ली पुलिस से चूक हुई जिसकी पूरी तरह से जाँच नही की गई। इसी बात का हवाला देते हुए कुछ यू ट्यूब चैनल ने एक झूठी फैक खबर चलाई कि शास्त्री नगर क्षेत्र में अखबारों के माध्यम से कोरोना वायरस पहुँच गया है, जो कि बिल्कुल निराधार खबर थी। इस बात की पुष्टि करने दिल्ली अप-टु-डेट समाचार पत्र की टीम समाचार पत्र के सेंटर गई और डिस्टीबूट करने वाले उन 17 लोगो से उड़ी अफवाहों को लेकर बातचीत की।

क्या है सच्चाई
समाचार पत्र डिस्टीबूट करने वाले इन वैंडरो ने अफवाहों को लेकर बताया कि जिस गाड़ी से अखबार सेंटरों पर पहुंचाया जाता है उस गाड़ी के ड्राईवर से किसी भी प्रकार से उनका सम्पर्क नही हुआ है क्योंकि वो गाड़ी अखबार सेेंटर पर तीन बजे आती है और सभी वैंडर अखबार डिस्टीबूट करने के लिए 5 या 5.30 बजे आते है।

दिल्ली पुलिस द्वारा जारी की गई लिस्ट सामनें आयी है जिसमें साफ तौर पर लिखा हुआ है कि न तो ये लोग कोरोना वायरस से संक्रमित है, न क्वारंटाइन के आदेश दिए गए और न ही ये लोग क्वारंटाइन होकर आये है। ये वैंडर पूरी तर​ह से सुरक्षित है व डिस्टिबूशन का कार्य बचाव व सावधानियां बरर्ते हुए कर रहे है। आपकों बता दे कि अखबारों से कोरोना वायरस नही फैलता है। इसे प्रिंटिंग के दौरान सेनेटाइज किया जाता है, जो पूर्णरूप से सुरक्षित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *