प्रोटेक्शन किट के बगैर कोरोना वायरस से लड़ रहे डॉक्टर

डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को WHO से मान्यता प्राप्त सुरक्षित कपड़े और उपकरण उपलब्ध करवाने की मांग वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई थी।

Spread the love

नई दिल्ली। वैश्विक महामारी बना कोरोना वायरस जो तेजी से लोगो को संक्रमित कर रहा है। वही डॉक्टर भी अपनी जान को जोखिम में डालकर मरीजो का इलाज कर रहे है। बता दे कि कोरोना वायरस से लड़ रहे डॉक्टरों को फिलहाल सुरक्षित कपड़े और उपकरण उपलब्ध नही करवायें गए है। जिसकों लेकर 1 अप्रैल 2020 को सुप्रीम कोर्ट में सुनाई हुई।

डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को WHO से मान्यता प्राप्त सुरक्षित कपड़े और उपकरण उपलब्ध करवाने की मांग वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई थी। जिसकी सुनवाई करते हुए सॉलिसीटर जनरल ने कहा कि इस दिशा में तेजी से काम हो रहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने नागपुर के डॉक्टर बर्नेट की याचिका सरकार को सौंपी है। सरकार स्थिति पर जानकारी देगी। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी नहीं किया है। अगले हफ्ते इस पर फिर सुनवाई की जायेंगी। डॉक्टरों को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा स्वीकृत प्रोटेक्शन किट्स उपलब्ध करवाने को लेकर एक जनहित याचिका दायर की गई थी। क्योंकि, डॉक्टर ​किट के बिना बहुत ही कठिन परिस्थितियों में काम कर रहे हैं।

मामले की सुनवाई के दौराना सॉलिसीटर जनरल ने कहा कि कल भी हमारे पास ऐसा ही एक मामला आया था और हम इसे लेकर कदम उठा रहे हैं। इस पर नोटिस जारी न करें, हमें याचिका दें और हम इस पर कदम उठाएंगे। वही सुप्रीम कोर्ट इस मामले को लेकर केंद्र सरकार के जवाब का इंतजार कर रहा है, इसलिए नोटिस नहीं जारी किया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अगले सोमवार या मंगलवार को जब ये बेंच दोबारा बैठेगी, तब हम इस पर विचार करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *