भारतीय सैन्य शक्ति को बढ़ाने आ रहा हैं अपाचे अटैक हेलीकॉप्टर

अपाचे अटैक हेलीकॉप्टर Indian Air Force हिंडन एयरबेस

भारतीय वायुसेना को मिलने वाले मशहूर अपाचे अटैक हेलीकॉप्टर्स

Spread the love

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना को मिलने वाले अपाचे अटैक हेलीकॉप्टर्स की पहली खेप इस माह के आखिर तक ग़ाज़ियाबाद के हिंडन एयरबेस पर पहुंच जाएगी। इस खेप में 3 से 4 हेलीकॉप्टर्स हो सकते है ऐसी संभावना है। पठानकोट में अपाचे की पहली स्क्वाड्रन की तैनाती के लिए एक माह का और समय लगेगा। 22 अपाचे हेलीकॉप्टर्स की भारत ने अमेरिका से ख़रीद की है।


अपाचे हेलीकॉप्टर्स 27 जुलाई को AN 224 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट से ग़ाज़ियाबाद के हिंडन एयरबेस पर पहुंच जाएंगे। इन हेलीकॉप्टर्स को यहां पर तैयार किया जाएगा और अगस्त के आखिरी हफ्ते में उन्हें भारतीय वायुसेना में औपचारिक रूप से शामिल होने के लिए पठानकोट भेज दिया जायेगा।
बता दें अपाचे अटैक हेलीकॉप्टर्स की पहली स्क्वाड्रन पठानकोट में तैनात रहेगी जिसके पहले कमांडिंग अफसर ग्रुप कैप्टन एम शायलू होंगे। पठानकोट में पहले से ही तैनात वायुसेना की 125 हेलीकॉप्टर स्क्वाड्रन फिलहाल MI-35 हेलीकॉप्टर्स उड़ाती है और अब ये देश की पहली अपाचे स्क्वाड्रन होगी। दूसरी स्क्वाड्रन असम के जोरहाट में तैनात होगी। संभावना है कि 2020 तक सभी अपाचे भारतीय वायुसेना को मिल जाएंगे।


अपाचे AH 64 E हेलीकॉप्टर 30 मिमी की मशीनगन से लैस है जिसमें एक बार में 1200 तक राउंड हो सकते हैं। इसके अलावा अपाचे एंटी टैंक हेलफ़ायर मिसाइल से भी लैस है जिसके बारे में माना जाता है कि इसकी एक मिसाइल एक टैंक को तबाह करने के लिए काफ़ी है। अतिरिक्त हथियार के तौर पर हाइड्रा अनगाइडेड रॉकेट लगा होता है जो किसी ज़मीन के किसी निशाने पर अचूक वार करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *