महाराष्ट्र सरकार लागू करेंगी एनपीआर

एनआरसी एनपीआर हिंसक प्रदर्शन

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक मई से 15 जून के दौरान एनपीआर के तहत डेटा कलेक्ट करने के लिए अधिसूचना जारी की है।

Spread the love

मुंबई। सीएए और एनआरसी को लेकर जहा पूरे देश में हिंसक प्रदर्शन हुए और कई जगह अभी तक धरने पर लोग बैठे हुए है। तो वही दूसरी ओर महाराष्ट्र में एक मई से राष्ट्रीय जनसंख्या सूची यानी एनपीआर पर काम होना शुरू हो जाएगा। इसके तहत जनसंख्या अधिकारी एक मई से 15 जून तक घर-घर जाकर डेटा कलेक्ट करेंगे। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक मई से 15 जून के दौरान एनपीआर के तहत डेटा कलेक्ट करने के लिए अधिसूचना जारी की है।

बता दे कि मुंबई में केंद्रीय जनगणना कार्यालय का दावा है कि इस संबंध में महाराष्ट्र सरकार भी जल्दी अधिसूचना जारी कर देगी। इस सिलसिले में मुंबई में चीफ पापुलेशन ऑफिसर के ऑफिस में 6 फरवरी को एक बैठक हुई थी।

इसमें म्युनिसिपल कमिश्नर के अलावा राज्य के सभी जिलों के जनगणना अधिकारी भी शामिल हुए थे। बैठक में महाराष्ट्र सरकार के जनरल एडमिनिस्ट्रेशन की प्रिंसिपल सेक्रेटरी, केंद्र और राज्य कार्यालय की कार्डिनेटर वल्सा नायर और जनगणना कार्यवाही संचालनालय की संचालक रश्मि झगड़े भी मौजूद रहीं।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की सरकार है। इसमें कांग्रेस सीएए, एनआरसी और एनपीआर का विरोध कर रही है। एनसीपी ने एनपीआर को लेकर अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं। वहीं, शिवसेना के बारे में कहा जा रहा है कि वह एनपीआर पर राजी है। ब्यूरो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *