पाकिस्तान के जुल्मों के खिलाफ सड़को पर उतरे लोग

Pakistan PoC Rajnath Singh

जुल्मों के खिलाफ सड़को पर उतरे लोग

Spread the love

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार द्वारा जम्मू—कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 हटाएं जाने के बाद पाक को डर है कि कही भारत Pok को भी अपने कब्जे में न ले लें। वही पाक अधिकृत कश्‍मीर (Pok) में पाकिस्‍तान के जुल्‍मो-सितम के खिलाफ लोग सड़कों पर उतर आए हैं। पीओके के तत्‍ता पानी में स्‍थानीय लोगों ने पाकिस्‍तानी सेना की ज्‍यादतियों के खिलाफ प्रदर्शन कर आजादी की मांग की जा रही है। बढ़ते विरोध-प्रदर्शनों के कारण रावलकोट, हजीरा, तेतरी नोट जिलों में मोबाइल और इंटरनेट की सभी सेवाएं बंद पड़ी हुई हैं।

बता दे कि बीती रात 40 राष्‍ट्रवादी प्रदर्शनकारियों को पकड़कर हजीरा पुलिस स्‍टेशन में रखा गया। स्‍थानीय लोग पाकिस्‍तान से आजादी की मांग कर रहे हैं। दरअसल पाकिस्‍तान की खनिज संपदा समेत प्राकृतिक स्रोतों का जमकर दोहन कर रहा है। लेकिन इलाके के लोग बदहाल दशा में जीने को मजबूर हैं। इसके अलावा पाकिस्‍तानी सेना ने यहां तमाम पाबंदियां लगा रखी हैं। इन वजहों से काफी अर्से से पोओके में पाकिस्‍तान से आजादी की मांग उठ रही है।

जम्‍मू-कश्‍मीर में आर्टिकल 370 हटने के बाद पीओके का मुद्दा एक बार फिर से गर्मा गया है। पाकिस्‍तान ने कहा है कि भारत पीओके पर हमला करने की तैयारी कर रहा है, वहीं भारत ने पलटवार करते हुए कहा है कि कश्‍मीर समेत पीओके आखिर पाकिस्‍तान का कब था, जिस पर वह अपना हक जताता है?

उल्‍लेखनीय है कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पिछले दिनों लद्दाख पहुंचे। राजनाथ सिंह ने वहां किसान-जवान विज्ञान मेले का उद्घाटन किया। उद्घाटन समारोह में काफी संख्या में स्थानीय लोगों से साथ ही जवान भी मौजूद रहे। राजनाथ सिंह ने इस दौरान किसानों, जवानों और विज्ञान के क्षेत्र में सराहनीय काम करने वाले लोगों को संबोधित किया।

राजनाथ सिंह ने अपने संबोधन में पाकिस्तान पर हमला बोलते हुए कहा “मैं पाकिस्तान से पूछना चाहता हूं, कश्मीर कब पाकिस्तान का था कि उसको लेकर रोते रहते हो? पाकिस्तान बन गया तो हम आपके वजूद का सम्मान करते हैं, इस मामले में पाकिस्तान की कोई जगह नहीं है।” ब्यूरो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *