एकता एवं अखंडता के लिए याद किए जाते सरदार पटेल: प्रहलाद

आधुनिक भारत सरदार पटेल

देश की एकता एवं अखंडता

Spread the love

सागर। केन्द्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल ने सरदार वल्लभ भाई पटेल के देशहित में लिए फैसलों का स्मरण करते हुए आज कहा कि उनके द्वारा देश की एकता एवं अखंडता को लेकर जो निर्णय लिए गए थे, उन्ही के चलते उन्हें लौह पुरुष के रुप में याद किया जाता है।

पटेल यहां डॉ हरिसिंह गौर केन्द्रीय विश्वविद्यालय द्वारा ‘आधुनिक भारत के निर्माण में लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल का योगदान’ विषय पर आयोजित व्याख्यान को संबोधित के रहे थे। उन्होंने कहा कि वर्तमान में राजनीतिक परिदृश्य में बढ़ता अधोपतन और अविश्वास से जो संकट पैदा हो रहा है। उससे उबरने में सरदार पटेल की कार्यशैली ही प्रासंगिक है।

उन्होंने कहा कि सरदार पटेल को जानने के लिए उनके लिखे पत्रों को अध्ययन करें। कभी अपने लिए नही हमेशा एकता अखंडता के लिए ही निर्णय लिए। प्रशासनिक फैसलों में उनकी सोच झलकती थी। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल फूलमाला के वह मजबूत धागे की तरह है, जिनकी सोच और फैसलों से देश की एकता और अखंडता की आज भी एक दूसरे को बांधे है। उन्होंने कभी संकल्प में विकल्प को नही तलाशा है।

इस मौके पर कुलपति प्रो आर पी तिवारी ने विवि की गतिविधियों से अवगत कराया और कहा डॉ गौर को भारत रत्न दिलाने के लिए जो भी प्रयास और मार्गदर्शन मिलेगा। उस दिशा में प्रयास किये जायेंगे। इसके पहले उन्होंने विवि के प्राचीन भारतीय इतिहास, संस्कृति एवं पुरातत्त्व विभाग के नवीन संग्रहालय भवन का भूमिपूजन और नवनिर्मित अथिति गृह भवन का लोकार्पण किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *