तुरंत गिरफ्तारी मामले में सुप्रीम कोर्ट का जल्द सुनवाई से इंकार

Supreme court SC-ST Act.

जल्द सुनवाई से इंकार

Spread the love

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने SC-ST एक्ट के तहत तुरंत गिरफ्तारी पर रोक मामले में मंगलवार को जल्द सुनवाई करने से मना कर दिया है। इस मामले को इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने बड़ी बेंच के पास भेजा दिया था। बता दें ​कि सुप्रीम कोर्ट की 3 जजों की बेंच को केंद्र सरकार की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करना है।

दरअसल, केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर कर सुप्रीम कोर्ट की 2 जजों की बेंच के फैसले पर पुनर्विचार की मांग की है। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट की 2 जजों की बेंच ने SC-ST एक्ट मामलों में सीधे गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी।

पिछले साल दिए अपने फैसले में कोर्ट ने माना था कि एससी-एसटी एक्ट में तुरंत गिरफ्तारी की व्यवस्था के चलते कई बार उन लोगो को जेल जाना पड़ता है जिन्होंने कोई जुर्म ही नही किया हो। कोर्ट ने फैसले में तुंरत गिरफ्तारी पर रोक लगाई थी। हालांकि बाद में सरकार ने रद्द किए गए प्रावधानों को दोबारा जोड़ दिया था।

सुप्रीम कोर्ट ने 30 जनवरी को मामले पर सुनवाई करते हुए एससी-एसटी कानून में संशोधनों पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर देश में बवाल के बाद केंद्र सरकार ने संसद में अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति (अत्याचार रोकथाम) अधिनियम, 2018 पारित कर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को बदल दिया था। संशोधित कानून के मुताबिक आपराधिक केस दर्ज करने से पहले प्राथमिक जांच और गिरफ्तारी से पूर्व अनुमति के प्रावधान को भी खत्म कर दिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *