26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के साथ भेड़, बकरी, गाय और भैंस लेकर दिल्ली कूच करेंगे किसान

Spread the love

नई दिल्लीं। कृषि कानूनों को लेकर जारी प्रदर्शन के तहत सरकार और किसानो के बीच 9दौर की बैठक हो चुकी है 10वे दौर की बैठक शुक्रवार को होना तय की गई हे जिस दौरान सरकार बैठक के लिए तैयार है परंतु किसानों ने भी सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित कमेटी के सामने जाने से इनंकार कर दिया है। जिस दौरान सुप्रीम कोर्ट द्धारा बनाई गई 4 लोगो की कमेंटी में शामिल भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष भूपिंदर सिंह ने अपना नाम वापस ले लिया है और कहा कि मै मै सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद करता हू कि 4 लोगों की कमेटी में मुझे जगह दी गई लेकिन एक किसान और यूनियन लीडर होने के नाते आम लोगों और किसानों की आशंकाओं को देखते हुए मैं इस कमेटी से अपना नाम वापस ले रहा हूॅ। मै अपने पजांब व किसानों के लिए किसी भी पद को कुर्बान कर सकता हूं।

Farmer union clarifies Republic Day tractor rally only at Delhi border,  appeals to avoid separatist elements - India News

आपको बता दे कि 12 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट द्धारा बनाई 4 लोगो की कमेटी में भूपेंद्र सिंह मान, इंटरनेशनल पॉलिसी एक्सपर्ट डॉ प्रमोद कुमार जोशी, एग्रीकल्चर इकोनॉमिस्ट अशोक गुलाटी और शेतकरी संघटना, महाराष्ट्र के अनिल घनवट को शामिल किया था। गौरतलब किसानों ने बुधवार को लोहड़ी के अवसर पर लागू हुए नए कानूनों की कॉपी जलाई तथा 14 जनवरी को किसान मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का पुतला जलाने का ऐलान किया है व 26 जनवरी को दिल्ली में भेड़, बकरी, गाय और भैंस लेकर दिल्ली में एटं करेंगे तथा ट्रैक्टर परेड भी करेंगे। किसानों द्धारा 26 जनवरी की तैयारी जोरो-शोरो से चल रही है किसानों का कहना है कि मांगे पूरी न होने तक प्रदर्शन में कोई कमी देखने को नही मिलेगी।

ये भी पढ़े : ब्रेकअप के बाद ऐसे जिए अपनी ज़िन्दगी


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *