अभिनेता रजनीकांत भी कूदे हिंदी भाषा की बगावत में

Rajinikant हिंदी दिवस Amit shah

हिंदी भाषा को नहीं थोपना चाहिए

Spread the love

नई दिल्‍ली। हिंदी दिवस के अवसर पर भाजपा नेता और केंद्रीय गृ​हमंत्री अमित शाह के ट्वीट कर कहा था कि भारत विभिन्न भाषाओं का देश है और भाषा का अपना महत्व है। देश की एक भाषा होना अत्यंत आवश्यक है। जो पूरे विश्व में भारत की पहचान बने। साथ ही उन्होंने रोजमर्रा के कामों में हिंदी भाषा का प्रयोग बढ़ाने के लिए आग्रह किया। इस पर कमल हासन ने कड़ी प्रतिक्रिया ​की थी।

इसके बाद अब मशहूर अभिनेता रजनीकांत भी हिंदी भाषा की बगावत में कूद पड़े हैं। बुधवार को उन्‍होंने कहा, ‘हिंदी भाषा को नहीं थोपना चाहिए। न केवल तमिलनाडु बल्‍कि कोई भी दक्षिणी राज्‍य हिंदी को स्‍वीकार नहीं करेगा। केवल हिंदी नहीं, कोई भाषा लागू नहीं होनी चाहिए।’

बुधवार को अभिनेता रजनीकांत ने कहा कि हिंदी को न सिर्फ तमिलनाडु बल्कि दक्षिण भारत के किसी भी राज्य में नहीं थोपा जाना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर ऐसा किया गया तो दक्षिण भारत के सभी राज्य इसका विरोध करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *