लोकसभा में आज तीन तलाक बिल होगा पेश

Triple talaq Loksabha

Triple talaq

Spread the love

नई दिल्‍ली। लोकसभा में आज तीन तलाक संशोधन बिल पेश किया जाएगा। कांग्रेस के सांसदो और विपक्षी सांसदों तथा यूपीए के नेताओं ने की बैठक, इस संशोधन बिल का करेंगे विरोध। बता दे कि यूपीए में करीब 14 राजनीतिक दल शामिल हैं और लोकसभा में 100 के करीब सांसद हैं। ऐसे में सरकार के लिए लोकसभा में यूपीए के विरोध का कोई खास असर नहीं होगा।
तीन तलाक बिल को लेकर कांग्रेस का मानना है कि कानून से पूर्व संबद्ध समुदाय के साथ विचार करना चाहिए। इस मामले को लेकर बीजेपी के सूत्रो ने कहा कि सांसदो को सदन में विधेयक पेश करने के वक्त मौजूद रहने के लिए व्हिप जारी कर दिया गया है।
सरकार द्वारा तीन तलाक विधेयक को लाने के फैसले पर कांग्रेस ने जताया विरोध और कहा कि इस विधेय​क पर पहले मुस्लिम समुदाय के लोगो से करनी चाहिए चर्चा।
कांग्रेस के लोकसभा सांसद मनीष तिवारी ने ट्वीट किया, “तीन तलाक विधेयक आज लोकसभा में नाटकीय रूप से पेश किया जा सकता है। मोदी द्वारा ट्रंप को कश्मीर में मध्यस्थता के दिए गए आमंत्रण के मुद्दे से भटकाने के लिए? अगर राजग/भाजपा मुस्लिम पर्सनल लॉ में दखल देने के लिए लालायित हैं तो वह मुस्लिम समुदाय से चर्चा कर 1950 के दशक के हिंदू कोड बिल की तरह कानून क्यों नहीं बनाते?”

विपक्ष के विरोध के बावजूद भी तीन तलाक विधेयक 2019 को केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने लोकसभा में पेश ​कर दिया था। जिस पर तमाम विपक्षी दलो ने अपनी अपत्ति जताई थी। विपक्ष विधेयक के वर्तमान स्वरूप के खिलाफ है। विपक्ष का तर्क है कि इसमें सिर्फ मुस्लिमों को निशाना बनाया जाएगा। यहां तक कि राजग की सहयोगी जनता दल- यूनाइटेड (जद-यू) भी इसके खिलाफ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *