क्या देखी है नल ब्रांड शराब?

21वीं सदी नल ब्रांड मदिरा

नल ब्रांड मदिरा देख सभी में हैरत?

Spread the love

नल ब्रांड मदिरा देख सभी में हैरत?

दिल्ली अप-टु-डेट
21वीं सदी में चमत्कार हुआ है लेकिन विज्ञान के इस युग में इसे लोग चमत्कार मानने को तैयार नहीं होंगे। हालांकि कहेंगे यह वैज्ञानिक भौतिक प्रक्रिया है लेकिन जो हुआ है वह वास्तव में चकित करने वाला मामला है। आज तक जो कुछ भी जमीन से निकला उसे लोगों ने दैवीय शक्ति माना है और कहा गया यह सब ईश्वर की कृपा से होता है। लेकिन यह ईश्वर की चूक नहीं बल्कि इंसानी चूक से ऐसा मामला सामने आया है। हालांकि कई शास्त्रों में भी उल्लेख है कि समुद्र मंथन के समय समुद्र से कई रत्न निकले थे। जिसका मंथन देवताओं और राक्षसों ने मिलकर किया था जिसमें मद्राचल पर्वत को मथानी के रूप में प्रयोग किया गया था।

इसके उपरांत काल्पनिक घटनाओं के वर्णन में तमाम कवियों ने शायद ही ऐसी कल्पनाएं की हो कि ऐसा भी हो सकता है। परंतु ऐसी कल्पना की कहानियां कोई गीत अभी तक संज्ञान में नहीं है। इतना तो जरूर हिंदी सिनेमा की कई फिल्मों एवं सीरियल नाटकों में किरदार निभाने वाले कई पात्रों के डायलॉग में जरूर सुना गया था कि मैं तुम्हारे इस काम को पूर्ण करने पर पार्टी दूंगा और नलों से शराब बहा दूंगा। इसका दूसरा उदाहरण है फिल्म हेरा फेरी का जिसमें प्रवेश रावल कहते हैं कि पानी की टंकी में शराब भरवा देंगे और नल से जब चाहे जी भर के शराब पिएंगे। तो आमतौर पर शराबी जब ज्यादा पी लेते हैं तो वह भी टूटी लड़खड़ाती आवाज में कहते है कि लल.. नल.. से.. स.. स.. शराब बहेगी?

ऐस वास्तव में सामनें आ गया जैसा कि शास्त्रों के अनुसार समुद्र मंथन से शराब निकलने का उल्लेख मिलता है और फिल्मी डायलॉग टंकी व नल से एवं शराबियों की टूटी आवाज से ठीक इसी प्रकार केरल के त्रिसूर जिलें में हकीकत में नजर आया है। यहाँ वास्तविक तौर पर घरों के नलों से शराब निकलनी शुरू हो गयी है। यह देख सभी हैरान हो गये तथा इस चर्चा को जिसनें सुना वह दंग रह गया। किसी को समझ में नही आ रहा था कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है जो नल पानी की जगह शराब देने लगे। यह कोई व्यंग नही बल्कि पूरी घटना सत्य है। केरल के एक जिला त्रिसूर के चलाकुड़ी कस्बें का पूरा मामला है।

यहाँ के सोलोमोन एवन्यू अपार्टमेन्ट में रहने वाले लोगो ने जब एक दिन नल खोला तो उसमें से भूरे रंग का पानी आ रहा था और प्रत्यक्ष दर्सियों की मानें तो पानी से अजीब तरह की गंध आ रही थी। तो लोगो ने सोचा पीछे से पानी सप्लाई में कोई दिक्कत होगी तो कुछ लोग समझ गयी कि नल से पानी नही बल्कि शराब निकल रही है। यह खबर देखते ही देखते आग की तरह पूरे कस्बे में फैल गयी और चर्चा थी कि पानी की टंकी में शराब मिली हुई है। ऐसे में अपार्टमेंट के कुछ लोग नगर निगम के अधिकारियों से जाकर मिलें और पूरी बात बताई। नगर निगम ने तत्काल प्रभाव से मामलें की जाँच शुरू कर दी। जाँच में पता चला कि आवकारी विभाग क अधिकारियों द्वारा 4500 लीटर शराब जब्त की गयी थी।

इस शराब को अधिकारियों ने एक गड्डे में डाल दिया था। हालांकि अधिकाारियों को अंदाजा नही था यह शराब रिसकर कुएँ में चली जायेंगी और सोलोमेन एवन्यू के लोगो को पीने का पानी भी यही से पहुंचता था। इस बात से खफा लोगो ने आबकारी विभाग क अधिकारियों पर कार्यवाही करानें हेतु अधिकारियों का दरवाजा खटखटाया है। स्थानीय लोग यह मानते थे कि पाइप में गड़बड़ी है। पानी की गंंध और उसके स्वाद से ज्ञात हो गया कि पानी के अंदर शराब मिली हुई है। मामला चर्चा का अभी भी विषय बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *