राजकोट में भारत के बल्लेबाजी में सुधार और बड़े बदलावों का दबाव

भारतीय क्रिकेट टीम आस्ट्रेलिया वनडे सीरीज़
Spread the love

राजकोट। भारतीय क्रिकेट टीम को आस्ट्रेलिया से वनडे सीरीज़ के ओपनिंग मुकाबले में 10 विकेट से मिली शर्मनाक हार के बाद अब खिलाड़ियों के बीच आत्ममंथन शुरू हो गया है और राजकोट में शनिवार को दूसरे मुकाबले से पहले उसके सामने बल्लेबाज़ी में सुधार और बड़े बदलावों का दबाव पैदा हो गया है।

विराट कोहली की स्टार भारतीय टीम को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में आस्ट्रेलिया के हाथों पहले ही वनडे में जिस तरह 10 विकेट की एकतरफा हार झेलनी पड़ी है उसके बाद से वह कड़ी आलोचनाओं का शिकार हो रही है। भारत के पास बेहतरीन बल्लेबाज़ हैं, लेकिन इस मैच में उसके बल्लेबाज़ों ने ही सबसे अधिक निराश किया। ओपनर और उपकप्तान रोहित अपने घरेलू मैदान पर 10 रन ही बना पाये।

दूसरी ओर शिखर धवन, रोहित और लोकेश राहुल को ओपनिंग क्रम में शामिल करने के चक्कर में विराट का खुद को क्रम में नीचे खिसकाना भारी पड़ गया और चौथे नंबर पर वह 16 रन ही बना सके। मध्यक्रम में रिषभ पंत चोटिल होकर सीरीज़ से बाहर हो गये हैं जबकि श्रेयस अय्यर भी 4 रन ही बना पाये। आस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ों के सामने टीम के बल्लेबाज़ टिक नहीं सके और धवन की 74 रन और राहुल की 47 रन की पारी के अलावा सभी फ्लॉप साबित हुये।

भारतीय टीम के लिये यह हार इस वर्ष आस्ट्रेलिया की ही मेज़बानी में होने वाले आईसीसी टी-20 विश्वकप से पहले सबक सिखाने वाली है। खुद कप्तान विराट ने कहा था कि उनकी टीम किसी को भी कहीं भी हरा सकती है, लेकिन मौजूदा प्रदर्शन के बाद उसके बल्लेबाज़ी और महंगे साबित हुये गेंदबाज़ों पर संदेह पैदा हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *