होम क्वारंटाइन का नियम तोड़ने पर ताइवान के शख्स पर लगा 25 लाख रुपए का जुर्माना

Spread the love

ताइपे। सख्त सजा और जुर्माना नियम व कानून तोड़ने वालों के लिए निवारक की भूमिका निभाता है, लेकिन कोई नियमित रूप से जानबूझकर कानून तोड़ता है और दूसरों की जिंदगीओं में खतरा पैदा करता है तो उस व्यक्ति विशेष के खिलाफ सख्त कार्रवाई अवश्य होनी चाहिए। आपको बता दे कि एक व्यक्ति के खिलाफ इसी तरह की सख्त कार्रवाई एशियाई देश ताइवान में हुई, जिसे बिजनेस ट्रिप से लौटने के बाद होम क्वारैंटाइन कर दिया गया था लेकिन होम क्वारैंटाइन रहने के दौरान वह तीन दिन में 7 बार घर से बाहर निकला। इस वजह से उस पर 10 लाख ताइवान डॉलर (25 लाख 55 हजार रुपए) का जुर्माना लगाया गया है।

यह भी पढ़ें: अमेरिका में भारतीय दूतावास के बाहर खालिस्तानियों ने भारत के खिलाफ नारे लगाए

जानकारी के अनुसार, सेंट्रल ताइवान के ताइचुंग में रहने वाले इस शख्स का नाम सामने तो नहीं आ पाया है लेकिन जिन गतिविधियाँ को इस व्यक्ति को घर संगरोध के दौरान निषिद्ध थीं उसने उन सभी चीजों को किया। वह खरीदारी करने और कार ठीक कराने के लिए 7 बार घर से बाहर निकला था। इसी बात पर उसका पड़ोसियों के साथ विवाद हो गया। इससे मामला सामने आ गया।

ताइवान के सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार, यह शख्स 21 जनवरी को चीन से लौटा था। ताइवान के नियमों के हिसाब से उसे 14 दिन तक क्वारैंटाइन रहना था। ताइचुंग के मेयर लू शियो येन ने उसकी हरकत को गंभीर अपराध बताते हुए कहा कि उसे कड़ी सजा दी जानी चाहिए।

गौरतलब है कि कोरोना पर काबू पाने के लिए ताइवान दुनिया के लिए मिसाल बन गया है। इस स्वशासित द्वीप ने अपनी सीमा को समय रहते बंद कर दिया। बड़े पैमाने पर टेस्ट किए और कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग कर क्वारैंटाइन को सख्ती से लागू किया। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के मुताबिक, सख्त कदमों की वजह से 2 करोड़ 30 लाख आबादी वाले इस द्वीप में कोरोना के अब तक सिर्फ 893 मामले सामने आए हैं। वहीं 7 मौतें दर्ज की गई हैं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *