पीएम मोदी समेंत इस देश के नेता 24 सितंबर को व्हाइट हाउस में क्वाड शिखर सम्मेलन में लेंगे हिस्सा

Spread the love

(दिल्ली-अप-टु-डेट) वाशिंगटन। व्हाइट हाउस ने सोमवार को घोषणा की कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन 24 सितंबर को वाशिंगटन डीसी में क्वाड समूह देशों के नेताओं के पहले व्यक्तिगत शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेंगे। बाइडेन इस शिखर सम्मेलन के लिए व्हाइट हाउस में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन और जापान के योशीहिदे सुगा का स्वागत करेंगे।

आपको बता दें कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन निर्माता देश है। लेकिन बीते मार्च में भारत में स्थिति भयावह हो जाने के बाद मोदी ने वैक्सीन के एक्सपोर्ट पर बैन लगा दिया था उस वक्त कोरोना की दूसरी लहर से भारत में लाखों में मौतें हुईं थीं। अमेरिका का मानना है कि विकासशील देशों में जल्द से जल्द टीकाकरण हो जाएं, इसके लिए वैक्सीन का ज्यादा से ज्यादा एक्सपोर्ट होना जरूरी है। बाइडेन प्रशासन के सीनियर अधिकारी ने कहा कि हम भारत से द्विपक्षीय और दूसरे अन्य चैनलों से कोविड वैक्सीन की सप्लाई और इसे एक्सपोर्ट करने की समय-सीमा पर चर्चा कर रहे हैं।

मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री 24 सितंबर को अमेरिका के वाशिंगटन डीसी में ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन, जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा और अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ क्वाड नेताओं के शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।’’

बयान में बताया गया कि ये नेता 12 मार्च को ऑनलाइन हुए शिखर सम्मेलन के बाद हुई प्रगति की समीक्षा करेंगे और साझा हित के क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

मंत्रालय ने कहा, ‘‘ कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने के उनके प्रयासों के तौर पर, वे क्वाड टीकाकरण पहल की समीक्षा करेंगे, जिसकी घोषणा मार्च में की गई थी।’’

बयान में कहा गया कि नेता समकालीन वैश्विक मुद्दों जैसे महत्वपूर्ण एवं उभरती प्रौद्योगिकियों, सम्पर्क और बुनियादी ढांचे, साइबर सुरक्षा, समुद्री सुरक्षा, मानवीय सहायता, आपदा राहत, जलवायु परिवर्तन और शिक्षा पर भी विचारों का आदान-प्रदान करेंगे।

मंत्रालय ने कहा, ‘‘शिखर सम्मेलन, नेताओं के बीच संवाद तथा बातचीत के लिए एक मूल्यवान अवसर प्रदान करेगा, जो एक स्वतंत्र, मुक्त और समावेशी हिंद-प्रशांत को सुनिश्चित करने के उनके साझा दृष्टिकोण पर आधारित है।’’

ये भी पढ़े- : Hindi Day 2021 : ये है हिन्दी दिवस का उद्देश्य


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *