टेनिस में करियर बनाना चाहते थे युवराज सिंह, फिर इस डर से थाम लिया बल्ला

युवराज सिंह

युवराज ने बताया कि बचपन में जब उन्होंने अपना टेनिस रैकेट तोड़ दिया था, जो उनके पिता लेकर आए थे। टेनिस रैकेट तोड़ने के बाद वह बुरी तरह से डर गए थे और नया मांगने की हिम्मत नहीं कर पाए थे।

Spread the love

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय ऑल राउंडर युवराज सिंह क्रिकेटर बनने के अलावा टेनिस खिलाड़ी बनने का सपना भी रखते थे। युवराज ने एक इंटरव्यू के दौरान अपने बचपन के एक किस्से को याद करते हुए इस बात खुलासा किया। युवराज ने बताया कि बचपन में जब उन्होंने अपना टेनिस रैकेट तोड़ दिया था, जो उनके पिता लेकर आए थे। टेनिस रैकेट तोड़ने के बाद वह बुरी तरह से डर गए थे और नया मांगने की हिम्मत नहीं कर पाए थे।

युवराज सिंह ने स्पोर्ट्सकीड़ा को दिए एक इंटरव्यू में कहा, ”मुझे स्केटिंग और टेनिस से प्यार था। मैं अपना करियर टेनिस में बनाना चाहता था। मुझे याद है कि मैंने अपनी मां से रैकेट मांगा था। उन्होंने पापा को कहा कि मैं एक रैकेट चाहता हूं। पापा इस बात से थोड़ा नाराज हुए थे, लेकिन उन्होंने मेरे लिए रैकेट खरीद कर दिया था। उस वक्त उस रैकेट की कीमत 2500 रुपये थी। मैं किसी क्वॉर्टर फाइनल या कुछ खेल रहा था और टूर्नामेंट में हार गया था। टूर्नामेंट हारने के बाद मैंने रैकेट तोड़ दिया था। गुस्से में जोर जोर से मारा।”

उन्होंने आगे कहा, ”रैकेट तोड़ने के बाद मैं अपने पिता से डर गया था और नया मांगने की हिम्मत नहीं थी। इसके बाद मैंने सोचा कि कुछ दिन क्रिकेट खेलता हूं और इसके बाद दोबारा रैकेट के लिए पूछ लूंगा। लेकिन फिर में क्रिकेट को एन्ज्वॉय करने लगा। इसके बाद में पूरी तरह से क्रिकेट में आ गया और टेनिस खेलना छोड़ दिया।”

युवराज ने आगे बताया कि वह अभी भी फिटनेस के लिए टेनिस खेलते हैं। उन्होंने कहा कि इसमें इतना मजा आता है कि इससे उन्हें क्रिकेट की बहुत याद नहीं आती। उन्होंने कहा, ”मैं फिटनेस के लिए हमेशा टेनिस खेलता हूं। मैं टेनिस खेलना एन्ज्वॉय करता हूं और ईमानदारी से कहूं तो मुझे क्रिकेट की अब याद नहीं आती। मैं लगभग हर दूसरे दिन टेनिस खेलने के लिए उत्सुक रहता हूं।”

उन्होंने आगे सचिन तेंदुलकर से एक बातचीत का वाकया शेयर किया। उन्होंने बताया कि सचिन ने उनसे कहा था कि वह अगर 4-5 दिन ना खेलें तो परेशान हो जाते हैं। उन्होंने कहा, ”सचिन कह रहे थे कि बहुत जरूरी है कि वह कोई खेल खेलें। चाहे वह गोल्फ हो, टेबल टेनिस हो या बैडमिंटन। ऐसा सभी खेलों के खिलाड़ियों के साथ होता है। मैं टेबल टेनिस खेलना बहुत पसंद करता हूं। बिलियर्ड्स, स्नूकर या टेबल टेनिस… मैं हर दिन कोई ना कोई खेल खेलना चाहता हूं।”


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *