खुल गए दिल्ली के बॉर्डर, मेट्रो, रेल और बस सेवा भी हो गईं सामान्य; लोगों को मिली बड़ी राहत

जी-20 सम्मेलन के आयोजन को देखते हुए टीकरी, झाड़ोदा, ढांसा बॉर्डर व अन्य सभी रास्तों से दिल्ली में भारी और व्यावसायिक वाहनों के प्रवेश पर लगा प्रतिबंध रविवार देर रात हट गया। यह प्रतिबंध सात सितंबर की शाम 7 बजे से 10 सितंबर की रात 11 बजकर 59 मिनट तक के लिए लगाया गया था। दिल्ली के बॉर्डर हटते ही भारी और व्यावसायिक वाहन चालकों ने राहत की सांस ली।

भारी और व्यावसायिक वाहनों को छूट
निजी कारों व व टैक्सी आदि से दिल्ली जाने के लिए तो दिल्ली पुलिस ने लोगों को रविवार की शाम सात बजे से पहले ही ढिलाई देनी शुरू कर दी थी। भारी व व्यावसायिक वाहन के लिए बॉर्डर रात 12 बजे खोल दिए गए। दूसरे राज्यों को जाने वाले भारी व व्यावसायिक वाहन तो केएमपी होकर अपने गंतव्यों के लिए पहले ही निकल गए थे, लेकिन दिल्ली में विभिन्न स्थानों पर जाने वाले काफी वाहन टीकरी बॉर्डर से पहले बहादुरगढ़ की सीमा में सड़क किनारे ही खड़े थे।
प्रतिबंध के चलते बहादुरगढ़ पुलिस भी भारी व व्यावसायिक वाहनों को टीकरी बॉर्डर की तरफ बढ़ने से पहले ही रोक रही थी, लेकिन रविवार देर रात से बहादुरगढ़ पुलिस ने हरियाणा की सीमा में इन वाहनों को रोकना बंद कर दिया। यातायात थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह ने बताया कि दिल्ली पुलिस का कार्ययोजना के अनुसार उन्हें रात 11 बजकर 59 मिनट तक भारी और व्यावसायिक वाहनों का दिल्ली में प्रवेश बंद रखने को कहा गया था।

चलने लगीं रेलगाड़ियां
रोहतक-दिल्ली रेल मार्ग पर बंद की गई 20 यात्री व एक्सप्रेस रेलगाड़ियों की बहाली के भी आदेश हो गए। रेलवे स्टेशन अधीक्षक यशपाल मीणा ने बताया कि इस लाइन पर 22 जोड़े यानी अप-डाउन की 44 गाड़ियां चलती हैं। इनमें यात्री और एक्सप्रेस सभी गाड़ियां शामिल हैं। कुल 44 में से 20 यानी 10 जोड़े गाड़ियां जी-20 सम्मेलन की वजह से रद्द की गई थीं। इनमें से जिस भी गाड़ी के चलने का रविवार आधी रात के बाद का निर्धारित समय है, वह उसी समय के अनुसार चल रही है।

बस सेवा हुई सामान्य
आधी रात के बाद चलने वाली यात्री बसें भी चल पड़ी हैं। हरियाणा राज्य परिवहन के स्टेशन अधीक्षक सतीश ने बताया कि बहादुरगढ़ से सुबह साढ़े तीन बजे से दिल्ली होकर कई बसें चंडीगढ़ जाती हैं। दिल्ली प्रवेश पर रोक हटने से ये सभी बसें भी अपने गंतव्य के लिए चल पड़ी। इसी तरह रात 12 बजे के बाद कई बसें सिरसा, हिसार और पंजाब व राजस्थान से आकर दिल्ली जाती हैं। इन बसों का परिचालन भी सामान्य हो गया।

मेट्रो का समय भी हुआ पहले वाला
सोमवार से मेट्रो सेवा का समय भी सामान्य हो गया। जी-20 की वजह से 8 से 10 सितंबर तक हर रोज मेट्रो रेल सेवा आरंभ होने का समय घनी सुबह कर दिया गया था। इन दिन तक बहादुरगढ़ समेत सभी आरंभ स्थलों से हर रोज मेट्रो सुबह 4 बजे शुरू हो जाती थी। सुबह 6 बजे तक हर आधा घंटा के बाद गाड़ी छूटती थी, लेकिन सोमवार से परिचालन का समय पहले की तरह सामान्य हो गया है। अब बहादुरगढ़ के ब्रिगेडियर होशियार सिंह स्टेशन से सोमवार से शनिवार छह दिन तक मेट्रो सेवा सुबह 6 बजे और रविवार को सुबह 8 बजे से चलेगी।

Shanu Jha
Author: Shanu Jha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *