स्कूली बच्चों से शौचालय साफ कराने पर होती थी सख्ती, प्रधानाध्यापिका निलंबित

 

कर्नाटक के एक सरकारी स्कूल में छात्रों से शौचालय साफ कराने का वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। वीडियो सामने आते ही छात्रों के माता-पिता इसको लेकर खासा नाराज दिखे। उन्होंने स्कूल परिसर के बाहर विरोध प्रदर्शन किया साथ ही मामले पर प्रशासन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। मामला तूल पकड़ते ही घटना से संबंधित विद्यालय की प्रधानाध्यापिका को शिक्षा विभाग ने निलंबित कर दिया है।

मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि मामले पर बैठक बुलाई गई है, साथ ही मामले में कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है। साथ ही उन्होंने कहा कि मामले की वास्तविक रिपोर्ट मांगूगा। पहले भी इस तरह की घटना हुई थी, जिसके खिलाफ हमने कानूनी कार्रवाई की है। उपमुख्यमंत्री शिवकुमार ने कहा कि स्कूलों में शौचालयों की सफाई की व्यवस्था है।

बच्चों से शौचालय साफ करवाना उचित नहीं- शिवकुमार
पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि पहले एनएसएस, सेवा दल शिविरों में बच्चों को बगीचे की सफाई करने, पौधे लगाने का प्रशिक्षण दिया जाता था, लेकिन कभी भी शौचालय की सफाई के लिए बच्चों को शामिल करने की अनुमति नहीं दी है। वहीं कर्नाटक के प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा मंत्री मधु बंगारप्पा ने घटना की निंदा की और इसे ‘चौंकाने वाला’ और ‘निंदनीय’ करार दिया। उन्होंने कहा, इस तरह की घटना दोबारा न हो, इसके लिए कठोर कार्रवाई की जाएगी। बता दें इसी माह के शुरुआत में कोलार जिले के एक स्कूल के प्रिंसिपल और दो स्टाफ सदस्यों को इस आरोप में निलंबित कर दिया गया था कि कुछ छात्रों से स्कूल परिसर में सोक पिट साफ करने के लिए कहा गया था।

 

 

Saumya Mishra
Author: Saumya Mishra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *