दिल्ली के परिवार का गोवा जाना पड़ा मेहेंगा , किया गया जानलेवा हमला।

पणजी। गोवा, भारत की सबसे बेहतरीन टूरिस्ट जगहों में से एक है, जहां सिर्फ भारतीय ही नहीं बल्कि विदेश से भी लोग आते हैं और गोवा को देश के सबसे सुरक्षित पर्यटन स्थलों में से एक भी माना जाता है, लेकिन हाल ही में एक ऐसी घटना सामने आई है जिसने यहां आने वाले पर्यटकों को सुरक्षा के लिहाज से काफी संदेह में डाल दिया है। आपको बता दे कि दिल्ली के रहने वाले 47 वर्षीय अश्विनी कुमार चंद्रानी पर 5 मार्च की शाम गोवा के प्रसिद्ध अंजुना बीच पर एक गिरोह द्वारा घूंसों, लातों, बेल्टों, बेसबॉल बैट और चाकू से हमला किया गया, इस हमले के बाद वह और उनके परिवार के सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गए।

उन्होंने कहा कि परिवार ने रोशन और अन्य अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। मुख्य आरोपी रोशन रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट था। अंजुना पुलिस ने कहा कि जांच के दौरान, उन्होंने पाया कि शरीर के महत्वपूर्ण हिस्सों पर चाकू और अन्य हथियारों से हमला किया गया था, इसलिए भारतीय दंड संहिता (एटेम्पट टू मर्डर) की धारा 307 लागू की गई थी। जानकारी के अनुसार, अपराधियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने पूरे इलाके में लगे CCTV को खंगाला और अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है जिनकी पहचान रोइस्टन रेजिनाल्डो डायस सहयोगी रोशन, नायरॉन रेगिनाल्डो डायस, जोसेफ एलेक्स लोबो और काशीनाथ विश्वर आगरकाडेके के रूप में हुई है और भी अपराधियों की तलाश जारी है।

गौरतलब है कि जतिन शर्मा नाम के एक व्यक्ति ने अपने इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर हमले का एक भयानक वीडियो साझा किया, जिसमें लोगों का एक समूह तलवारों और चाकुओं से उन पर और उनके परिवार के सदस्यों पर हमला करता दिख रहा है। पोस्ट में एक अन्य वीडियो में एक महिला के अनुसार, जो घायल आदमी के साथ घटना का वर्णन कर रही थी, ने कहा कि उन्होंने गोवा के अंजुना में स्पाज़ियो लीज़र रिज़ॉर्ट में जाँच की और कर्मचारियों के साथ एक छोटी सी तकरार की, जिसकी उन्होंने प्रबंधक को सूचना दी। संबंधित स्टाफ सदस्य को बर्खास्त कर दिया। इस घटना के बाद, कर्मचारियों ने कथित तौर पर अपने साथियों को बुलाया, जो रिसॉर्ट के बाहर इकट्ठा हुए और परिवार के सदस्यों पर चाकुओं से हमला किया।

जिवबा दलवी, उप-विभागीय पुलिस अधिकारी (SDPO) ने कहा की “जाँच तेज़ी से हो रही है और जितने भी अपराधी हैं उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी “। इसी के साथ साथ गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कड़े शब्दों में कहा की जितने भी अपराधी हैं उनके खिलाफ सख्त कार्यवही होनी चाहिए , और कहा कि “तटीय राज्य में ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, जो भारत और विदेशों दोनों से बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित करता है ”

 

Arit
Author: Arit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *