ज्योति मौर्य जैसा मामला: पत्नी को दिन-रात मेहनत कर पढ़ाया, बोली- तेरी मेरी बराबरी नहीं; डॉक्टर पर आया दिल

एटा में ज्योति मौर्या जैसा मामला सामने आया है। यहां पति ने शादी के बाद पत्नी को BSC नर्सिंग कराया। अब पत्नी कह रही है कि तेरी मेरी बराबरी नहीं है। मैं MBBS के साथ रहूंगी।

उत्तर प्रदेश के एटा में ज्योति मौर्या जैसा मामला सामने आया है। यहां पति ने कहा कि उसने शादी के बाद पत्नी को नर्सिंग का कोर्स कराया। तैयारी की बात कही तो कोचिंग में दाखिला दिलाया। अब जब वह नौकरी करने लगी है तो कहती है कि तुम्हारे साथ नहीं रहूंगी। मैं एमबीबीएस के साथ रहूंगी। तुम्हारी कोई हैसियत नहीं है।

मामला मिरहची थाना क्षेत्र के अखतौली गांव का है। गांव निवासी प्रदीप कुमार ने बताया कि वर्ष 2022 में अर्चना निवासी कपरेटा, थाना पिलुआ से शादी हुई थी। शादी से पहले ही अर्चना ने आगे की पढ़ाई करने की बात कही थी। तब से ही पूरा ध्यान उसकी पढ़ाई पर लगाया और रुपये भी खर्च किए। उसने पत्नी को बीएससी नर्सिंग का कोर्स कराया। अब वह साथ नहीं रहना चाहती है। इसके साथ ही ज्योति मौर्या का उदाहरण दिया।
प्रदीप ने बताया कि शादी के कुछ समय बाद ही पत्नी ने आगरा में कोचिंग करने की बात कही। इस पर उसे एक कमरा दिलाकर पढ़ाई कराई। करीब छह माह बाद उसका व्यवहार बदल गया। इस पर एक दिन अचानक छिपकर हमने देखा तो वह दो युवकों के साथ कार में रात करीब 11 बजे लौटी। पूछने पर मुझे ही बुरा भला कहा। बर्बाद करने की धमकी दी। कहा कि जिसके साथ आई हूं वह एमबीबीएस है। उसके साथ ही रहूंगी तेरी मेरी कोई बराबरी नहीं है।

वहीं अर्चना का कहना है कि पति झूठे आरोप लगा रहा है, मेरा शादी के बाद से ही अतिरिक्त दहेज की मांग को लेकर उत्पीड़न शुरू कर दिया गया था। इसके बाद मायके वालों को बताया तो मां पुलिस को लेकर गांव पहुंची तब बमुश्किल ससुराल से लेकर आई थी। पति ने बुरी तरह से पिटाई की थी। इसका मेडिकल परीक्षण भी कराया गया।

आरोप है कि एक दूसरी लड़की के चक्कर में मुझे घर से निकालना चाहता है ताकि मुझे रास्ते से हटाकर उसको लेकर आ सके। मेरी पढ़ाई में कोई सहयोग नहीं किया गया, ना ही मुझे बीएससी नर्सिंग कराई गई है। बेबुनियाद आरोप लगाए जा रहे हैं।

महिला की ओर से पति के खिलाफ पहले से ही दहेज उत्पीड़न का मुकदमा चल रहा है। पति पर गंभीर आरोप भी लगाए गए हैं। गिरफ्तार किया जाएगा। पति की कोई शिकायत अब तक नहीं आई है।

Shanu Jha
Author: Shanu Jha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *