प्रगति मैदान टनल में हुई बाइक सवार युवक की मौत,न काम आया मोबाइल नेटवर्क और न ही SOS सिस्टम

प्रगति मैदान टनल में सोमवार रात एक हादसा हुआ जिसमे एक 19 वर्षीय राजन रॉय की मौत हो गई। बतादें की गंभीर चोट लगने से राजन की मौत हुई है। टनल के भीतर कनेक्टिविटी प्रॉब्लम के चलते पीसीआर कॉल करने के में 15 मिनट लग गई। परिवार का दवा है की अगर ये 15 मिनट बर्बाद न होते तो उसकी जान को बचाया जा सकता था। CCTV फुटेज में राजन इंडिया गए की तरफ जाने वाले कैरिजवे पर दिखा रहे है। अचानक बाइक दाहिने घूम जाती है और क्रैश बैरियर्स से टकराने के बाद दूसरे साइड पलट जाती है। सिक्योरिटी गार्ड्स राजन को आने वाले ट्रैफिक से बचा रहे थे। लगातार सीनियर्स को और पुलिस को फ़ोन लगाया जा रहे था लेकिन कॉल कनेक्ट नहीं हो रही थी।

राजन के सिर से खून आ रहा था,वह बेहोश था। पुलिस के अनुसार, घटना रात करीब 9 :45 बजे हुई। हालाँकि ,PWD का दावा है की हादसा 9 :53 बजे हुआ। पुलिस जाँच कर रही है की एक्सीडेंट की क्या वजह हो सकती है। हैरानी की बात यह है की वहां मौजूद गार्ड्स को भी टनल के भीतर लगे इमरजेंसी फ़ोन सिस्टम की जानकारी नहीं थी।

इस घटना के वक़्त दूसरे कैरिजवे पर लौट रहे TOI रिपोर्टर ने भीड़ देखकर कार रोकी। जब रिपोर्टर ने एक्सीडेंट स्पॉट के पास मौजूद SOS सिस्टम के बटन को दबाकर मदद मांगी तो उधर से कोई जवाब नहीं आया। जब तक रिपोर्टर मौके पर रहा,कोई पब्लिक अनाउंसमेंट भी नहीं हुई।
एक्सीडेंट स्पॉट से आगे बढ़ने पर,नोएडा और सराय काले खां जाने वाले रिंग रोड के रैंप पर जाकर नेटवर्क मिला। फ़ौरन टनल के इंचार्ज अधिकारियों को खबर दी गई। उसी वक़्त ,रात करीब 10 बजे पीसीआर को एक दूसरे व्यक्ति की कॉल आई जो टनल से गुज़रा था,पुलिस भी मौके पर पहुंची। राजन को लेडी हार्डिंग अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

पुलिस के अनुसार राजन मेरठ से लौट रहा था और उत्तर नगर स्थित अपने घर जा रहा था। वह जसोला की एक कंपनी में सर्विस इंजीनियर था। यह उसकी पहली नौकरी थी। पुलिस को राजन का हेलमेट मिला जो चकना चूर हो चूका था। दिल्ली पुलिस ने आईपीसी की धरा 279 और 304 A के तहत मुकददमा दर्ज किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *